Monday, March 28, 2011

कैसे बयान करू --- रात की बात

कैसे बयान करू इस दिल से उस रात की बात
जो गुजरी बाहों मैं मेरे हमसफ़र के साथ

दिल मैं मचल उठी थी महोबत की लहरें
महकी साँसों से महक उठी और हसीं यह रात

उन्ग्लिओं की शरारत जब हुई नाजूक होठों पे
जादू तेरा चला जैसे हो आग बरसाती यह बरसात

उसके होठों की नरमी से साँसों की गर्मी से
जैसे हो आज तारों ने सजाई मिलन की यह रात

खो गए एक दुसरे मैं कुछ इस तरह से हम
ऊफ दीवाने ही समझेंगे दीवानों की यह बात !

12 comments:

ज्ञानचंद मर्मज्ञ said...

गहरे प्यार के जज्बात को आपने जो शब्द दिये हैं वह काबिले तारीफ़ है !
आभार !

ज्योति सिंह said...

pyaar ke gahre ahsaas liye khoobsurat rachna .

अजय कुमार झा said...

खूबसूरत पंक्तियां हैं

Manpreet Kaur said...

@ Sukriya Aap Sab Ke Pyar Ke Liye ! :D

Manpreet Kaur said...

ज्योति सिंह~ सुक्रिया मेरे ब्लॉग पर आने के लिए

chirag said...

bahut khoob
full with feeling and emotions

visit mine blog also and follow it if you like it
http://iamhereonlyforu.blogspot.com/

Mrs. Asha Joglekar said...

खो गए एक दुसरे मैं कुछ इस तरह से हम
ऊफ दीवाने ही समझेंगे दीवानों की यह बात !
सच कह रही हैं आप । ऐसे जज्बातों को शब्द देना कमाल है ।

Hema Nimbekar said...

bahut khub....magar kuch galtiyan hai....main (मैं) ki jagah agar mein (में) type kar use hindi mein convert karengi to sahi ayega..iss tarah ungliyaon (उन्ग्लिओं) ki jagah par ooungliyaon (ऊंगलियों) likhe....

but ur writing is amazing...i like the way u express the feeling with small small details...

Arvind Mishra said...

काश ये मेरी आखों पर कोई कहता !

UDIT said...

dil khol ke rakh diya apne to
so romantic..

surendrashuklabhramar said...

मनप्रीत कौर जी बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति आप की- आप ने तो हम हिंदी भाषी को भी मात दे दी-आप मेरे ख्याल से पंजाब की खुबसूरत सोणी मिटटी से सम्बन्ध रखती हैं - क्या वर्णन प्रेम का जज्बात -मन की आँखों में पर लग गए -लेकिन एक बात -हिंदी बनाते वक्त कृपया सावधान रहें -जैसे करूँ (यन लगायें आगे), उँगलियों , मोहब्बत, नाजुक ,दूसरे, कृपया एडिट करें मजा आ जाये
सुरेन्द्र कुमार शुक्ल भ्रमर जालंधर पंजाब

खबरों की दुनियाँ said...

बहुत अच्छी अभिव्यक्ति , बधाई ।

Post a Comment